Category: शिशु रोग

बच्चे के बुखार, सर्दी, खांसी की अचूक दवा - Guide

By: Salan Khalkho | 5 min read

बच्चों को सर्दी और जुकाम मैं बुखार होना आम बात है। ऐसा बच्चों में हरारत (exertion) के कारण हो जाता है। कुछ साधारण से घरेलु उपचार के दुवारा आप बच्च्चों में सर्दी और जुकाम के कारण हुए बुखार का इलाज घर पे ही कर सकती हैं। (bukhar ki dawa, खांसी की अचूक दवा)

बच्चे के बुखार को सर्दी और जुकाम ठीक करने का उपाय - Guide cure child fever in winter

जब बच्चों को बुखार होता है तो पूरा घर सुना लगने लगता है। 

बच्चों की चहल कदमी, कूदा-फांदी और बदमाशियां की जैसे माता-पिता को आदत सी पड़ जाती है। 

बच्चे कितना ही नाक में दम कर दें, मगर जब बीमार पड़ते हैं, तो पूरा घर मनो काटने को दौड़ता है। 

थोड़ी सी सावधानी बरत के आप अपने बच्चे को बीमार होने से बचा सकती हैं - और अगर बीमार पड़ ही गए तो आप घरेलु उपचार के दुवारा उनकी सर्दी और जुकाम का इलाज भी कर सकेंगी। 

इस लेख में हम आपको बताएँगे सर्दी, खांसी की अचूक दवा। ये शिशु की सर्दी और जुकाम को ठीक करने के घरेलु उपाय हैं। बच्चों को सर्दी जुकाम की दवा देने से कहीं बेहतर ही की उनका घरेलु उपचार किया जाये। 

इस लेख में आप पढ़ेंगी

  1. बच्चे बीमार क्योँ पड़ते हैं
  2. बच्चे को खूब सारा पानी पिने को दें
  3. बच्चे को खूब आराम करने को बोलें
  4. बच्चे को गीले कपडे से पोछें

बच्चे बीमार क्योँ पड़ते हैं 

मगर मौसम जब बदलता है तो बच्चों का बीमार होना लाजमी है। ऐसे मैं आप बहुत कुछ नहीं कर सकती हैं। बच्चों का शरीर आप के शरीर की तरह इतना विकसित नहीं हुआ है की वो अपने शरीर के तापमान को बदलते मौसम के अनुरूप नियंत्रित कर सके। 

लेकिन जब बच्चे बीमार पड़ते हैं तो उनका शरीर मौसम के इन बदलावों से वाकिफ होता है और मौसम के अनुसार अपने को ढालने की कला को सीखता है। 

इसी तरह जब बच्चे किसी संक्रमण का शिकार होता है तो उनका शरीर उस संक्रमण से लड़ना सीखता है। इसके बाद कई साल तक बच्चे के शरीर की रोग प्रतिरोधक छमता उस संक्रमण से लड़ने में और शरीर का बचाव करने में माहिर हो जाती है। 

इन सारी बातों से में आप को यह बताना चाहता हूँ की जब बच्चे ठण्ड के मौसम में सर्दी और खांसी के शिकार होते हैं तो घबराने की कोई भी आवशकता नहीं है। बच्चों का बीमार पड़ना बहुत ही साधारण सी बात है।

शिशु रोग विशेषज्ञों के अनुसार एक साल में बच्चे कम से कम पांच से सात बार बीमार पड़ते हैं। यह बेहद आम बात है।

मगर इसका मतलब यह बिलकुल नहीं है की आप अपने बच्चे को सर्दी के मौसम में ठण्ड से बचाने का प्रयास न करें। जब मौसम बदलता है, और ठण्ड बढ़ती है तो आप को अपने बच्चों को ठण्ड से बचाने के लिए सारे प्रयास करने चाहिए। 

लेकिन अगर हर प्रयास के बाद भी बच्चे बीमार पड़ जाएँ तो चिंता न करें। सर्दी और जुकाम की वजह से जो बुखार होता है कुछ दिनों में अपने आप ही ठीक हो जाता है। सर्दी और जुकाम में शरीर का तापमान बढ़ने का मतलब होता है की शिशु का शरीर सर्दी और जुखाम के के संक्रमण से लड़ रहा है। 

हाँ यह बात सच है की बुखार की वजह से आप के शिशु को काफी तकलीफ होगी। 

सर्दी और जुकाम में बच्चे का बुखार ठीक करने का उपाय:

बच्चे को खूब सारा पानी पिने को दें

बुखार की वजह से शरीर में पानी की कमी हो जाती है और शिशु को dehydration भी हो सकता है। इसके साथ ही विदेशों में हुए अनेक शोध में यह पाया गया है की बुखार में ढेर सारा पानी पिने से बुखार से जल्दी रहत मिलता है। यानि की आप का बच्चा जितना ज्यादा पानी पिए गए उसका बुखार भी उतना जल्दी ठीक होगा। 

बच्चे को खूब सारा पानी पिने को दें let child drink plenty of water

बच्चे को पिने को गरम पानी दें। इससे तीन लाभ होगा। 

  1. पहला तो बच्चे के शरीर को पानी मिलेगा जो की उसे dehydration से बचाएगा और सर्दी और खांसी के संक्रमण से लड़ने में शरीर की मदद करेगा। 
  2. दूसरा यह की सर्दी और खांसी की वजह से बच्चे के गले पे हुए खराश और सूजन को कम करेगा। गरम पानी से गले की सके हो जाएगी। इससे गले को रहत मिलेगा और खांसी भी कम होगी। 
  3. तीसरा यह की बच्चे के गले और छाती में मौजूद कफ (mucus - बलगम) को पानी ढीला करेगा जिस वजह से कफ नाक के रस्ते आसानी से बहार आ जायेगा और शिशु की बंद नाक खुलींगी। 

बच्चे को खूब सारा पानी पिने को दें - drinking plenty of water fights infection

अगर आप अपने बच्चे को खूब सारा पानी पिने को दें तो जल्द ही वो बोर है जायेगा। इसीलिए आप अपने बच्चे को पानी अलग-अलग रूपों में दें जैसे की आप अपने बच्चे को सब्जियों की सूप बना के दे सकती हैं। अगर आप का बच्चा non-veg खाता है तो आप उसे chicken soup भी बना के दे सकती हैं। 

आप अपन शिशु को grenn tea भी दे सकती हैं। ग्रीन टी के अपने बहुत से फायदे हैं - मगर यहां पे जब आप का शिशु बीमार है तो ग्रीन टी आप के बच्चे के water intake को बढ़ने में मदद करेगा। 

बच्चे को खूब आराम करने को बोलें

खेल कूद से बच्चे के शरीर का तापमान बहुत तेज़ी से बढ़ेगा। जब बच्चे को पहले से बुखार है तो उसे कोई भी ऐसा activity न करने दें जिससे की उसके शरीर का तापमान बहुत बढ़ जाये। 

अपने बच्चे को बिस्तर पे लेट के आराम करने को कहें। अगर उसकी इक्षा हो तो आप उसके favorite खिलौने बिस्तर पे ही दे दें ताकि वो लेटे-लेटे उन खिलौनों से खेल सके। 

बच्चे को खूब आराम करने को बोलें let child take plenty of rest in fever

जब बच्चों को बुखार होता है और वे अपना अधिकतर समय बिस्तर पे लेटे - लेटे बिताते हैं तो इक्षा होती ही बच्चों को अपना मोबाइल दे दें ताकि वो उन पे अपना पसंदीदा cartoon देख सकें। इससे उनकी बोरियत कम होगी। मगर आप ऐसा न करें। लेटे - लेटे मोबाइल पे समय बिताने से शरीर में थकावट बनेगी और जब शरीर थका रहेगा तो जाहिर है की पूरी दक्षता से संक्रमण से लड़ न सके। 

बच्चे को गीले कपडे से पोछें 

अगर आप के बच्चे का तापमान बहुत ज्यादा बढ़ जाये तो आप अपने बच्चे के के माथे और हाथ की हतेलियोँ को और पैर के तलुओं को गीले कपडे से थोड़े थोड़े समय पे पोंछते रहें। इससे बच्चे के शरीर का तापमान कम होगा। 

बच्चे को गीले कपडे से पोछें give child sponge bath

अगर बहुत ठण्ड का समय चल रहा है तो बच्चे को गीले कपडे से न पोछें। इसके बदले उसके शरीर से कपड़ों का एक layer कम कर दें। 

अगर इन सब तरीकों से भी आप के बच्चे के शरीर का तापमान कम नहीं हो रहा है तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें ताकि आप के शिशु को समय पे सही इलाज मिल सके। 

Terms & Conditions: बच्चों के स्वस्थ, परवरिश और पढाई से सम्बंधित लेख लिखें| लेख न्यूनतम 1700 words की होनी चाहिए| विशेषज्ञों दुवारा चुने गए लेख को लेखक के नाम और फोटो के साथ प्रकाशित किया जायेगा| साथ ही हर चयनित लेखकों को KidHealthCenter.com की तरफ से सर्टिफिकेट दिया जायेगा| यह भारत की सबसे ज़्यादा पढ़ी जाने वाली ब्लॉग है - जिस पर हर महीने 7 लाख पाठक अपनी समस्याओं का समाधान पाते हैं| आप भी इसके लिए लिख सकती हैं और अपने अनुभव को पाठकों तक पहुंचा सकती हैं|

Send Your article at mykidhealthcenter@gmail.com



ध्यान रखने योग्य बाते
- आपका लेख पूर्ण रूप से नया एवं आपका होना चाहिए| यह लेख किसी दूसरे स्रोत से चुराया नही होना चाहिए|
- लेख में कम से कम वर्तनी (Spellings) एवं व्याकरण (Grammar) संबंधी त्रुटियाँ होनी चाहिए|
- संबंधित चित्र (Images) भेजने कि कोशिश करें
- मगर यह जरुरी नहीं है| |
- लेख में आवश्यक बदलाव करने के सभी अधिकार KidHealthCenter के पास सुरक्षित है.
- लेख के साथ अपना पूरा नाम, पता, वेबसाईट, ब्लॉग, सोशल मीडिया प्रोफाईल का पता भी अवश्य भेजे.
- लेख के प्रकाशन के एवज में KidHealthCenter लेखक के नाम और प्रोफाइल को लेख के अंत में प्रकाशित करेगा| किसी भी लेखक को किसी भी प्रकार का कोई भुगतान नही किया जाएगा|
- हम आपका लेख प्राप्त करने के बाद कम से कम एक सप्ताह मे भीतर उसे प्रकाशित करने की कोशिश करेंगे| एक बार प्रकाशित होने के बाद आप उस लेख को कहीं और प्रकाशित नही कर सकेंगे. और ना ही अप्रकाशित करवा सकेंगे| लेख पर संपूर्ण अधिकार KidHealthCenter का होगा|


Important Note: यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो kidhealthcenter.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है।

OPV
कॉलरा
वेरिसेला-वैक्सीन
जन्म-के-समय-टीके
टीकाकरण-Guide
ढाई-माह-टीका-
six-week-vaccine
-9-महीने-पे-टीका
5-वर्ष-पे-टीका-
2-वर्ष-पे-टीका
14-सप्ताह-पे-टीका
10-12-महीने-पे-टीका
6-महीने-पे-टीका
शिशु-के-1-वर्ष-पे-टीका
शिशु-सवाल
15-18-महीने-पे-टीका
बंद-नाक
बच्चे-बीमार
डायपर-के-रैशेस
sardi-ka-ilaj
khansi-ka-ilaj
khansi-ka-gharelu-upchar
खांसी-की-दवा
सर्दी-जुकाम-की-दवा
sardi-jukam
कफ-निकालने-के-उपाय
balgam-wali-khansi-ka-desi-ilaj
नेबुलाइजर-Nebulizer-zukam-ka-ilaj
ह्यूमिडिफायर-Humidifier
पेट्रोलियम-जैली---Vaseline

Most Read

बच्चे-के-कपडे
बच्चे-को-साथ-सुलाने-के-फायेदे
बच्चे-को-सुलाएं
सिर-का-आकार
दूध-पीते-ही-उलटी
बच्चे-में-हिचकी
बच्चे-का-वजन
Weight-&-Height-Calculator
Indian-Baby-Sleep-Chart
शिशु-का-वजन
teachers-day
शिशु-मैं-हिचकी
बच्चों-के-हिचकी
शिशु-में-हिचकी
शिशु-हिचकी
दूध-के-बाद-हिचकी
नवजात-में-हिचकी
SIDS
Ambroxol-Hydrochloride
कोलोस्‍ट्रम
ठण्ड-शिशु
शिशु-potty
सरसों-के-तेल-के-फायदे
मखाना
भीगे-चने
Neonatal-Care
शिशु-मालिश
-शिशु-में-एलर्जी-अस्थमा
शिशु-क्योँ-रोता
अंडे-की-एलर्जी
शिशु-एलर्जी
नारियल-से-एलर्जी
रंगहीनता-(Albinism)
पेट-दर्द
fried-rice
दाल-का-पानी
गर्भावस्था
बच्चे-बैठना
शिशु-को-आइस-क्रीम
चिकनगुनिया
शिशु-गुस्सा
दाई-babysitter
टीकाकरण-2018
शिशु-एक्जिमा-(eczema)
बच्चों-को-डेंगू
शिशु-कान
ब्‍लू-व्‍हेल-गेम
D.P.T.
vaccination-2018
टाइफाइड-कन्जुगेटेड-वैक्सीन

Other Articles

indexed_320.txt
Footer