Category: बच्चों का पोषण

क्योँ जरुरी है कीवी खाना - क्या है इसके फायदे?

By: Editorial Team | 6 min read

जानिए कीवी फल खाने से शरीर को क्या क्या फायदे होते है (Health Benefits Of Kiwi) कीवी में अनेक प्रकार के पोषक तत्वों का भंडार होता है। जो शरीर को कई प्रकार की बीमारियों से बचाने में सक्षम होते हैं। कीवी एक ऐसा फल में ऐसे अनेक प्रकार के पोषक तत्व होते हैं जो शरीर को बैक्टीरिया और कीटाणुओं से भी लड़ने में मदद करते। यह देखने में बहुत छोटा सा फल होता है जिस पर बाहरी तरफ ढेर सारे रोए होते हैं। कीवी से शरीर को अनेक प्रकार के स्वास्थ लाभ मिलते हैं। इसमें विटामिन सी, फोलेट, पोटेशियम, विटामिन के, और विटामिन ई जैसे पोषक तत्वों की भरमार होती है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट और फाइबर भी प्रचुर मात्रा में मौजूद होता है। कीवी में ढेर सारे छोटे काले बीज होते हैं जो खाने योग्य हैं और उन्हें खाने से एक अलग ही प्रकार का आनंद आता है। नियमित रूप से कीवी का फल खाने से यह आपके शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है यानी कि यह शरीर की इम्यून सिस्टम को मजबूत करता है।

benefits of kivi fruit

ऐसे बहुत सारे पहाड़ी फल हैं जो स्वाद के लिहाज से बहुत ही स्वादिष्ट है और साथ ही शरीर के लिए बहुत फायदेमंद। ऐसे ही फलों की श्रीणी  में आता है किवी फल। इसमें एंटीएजिंग से लेकर डायबिटीज  को नियंत्रित करने जैसे गुण होते हैं। 

इसके अलावा इस फल में ऐसे और तमाम गुण होते हैं जिनका पता अगर आपको चल जाए तो आप इसे अपने आहार में अवश्य सम्मिलित करना चाहेंगी। 

कीवी के एक फल में कई फलों की बराबर पोषक तत्व होता है। विटामिन और मिनरल से भरपूर होने की वजह से यह डायबिटीज से लेकर डेंगू तक की बीमारी में लड़ने में मदद करता है। 

किवी फल के बारे में अधिक लोगों को जानकारी नहीं है।  ऐसा इसलिए क्योंकि यह फल  पिछले कुछ सालों से ही भारत में बिकना शुरू हुआ है।  

20 साल पहले तो शायद ही भारत में  किसी ने किवी फल भारत के बाजारों में देखा हो।  लेकिन आज किवी फल लगभग सभी फलों की दुकानों पर उपलब्ध है। 

किवी फल शरीर में बहुत तेजी से पुल का निर्माण करता है।  डेंगू एक ऐसी बीमारी है जिसकी वजह से शरीर में खून का लेवल बहुत तेजी से गिरता है।  

ऐसी में डेंगू की बीमारी में कीवी फल को खाने से शरीर में रक्त की कमी की भरपाई होती है। अर्थराइटिस की समस्या को दूर करता है और शरीर के अंदरूनी भागों को भरने में तथा शरीर की सूजन को कम करने में बहुत कारगर है।  

इस लेख में हम आपको बताएंगे  कीवी फल से मिलने वाले आपकी  शरीर को मिलने वाले सभी फायदों के बारे में। 

इस लेख में : 

लंबे समय तक आपको जवां बनाए रखता है

कीवी के फल में विटामिन ई और एंटीऑक्सीडेंट्स प्रचुर मात्रा में होती है। ये ऐसे पोषक तत्व है जो शरीर की त्वचा में तनाव पैदा करती है और उन्हें गठीला बना करके रखते हैं जिसकी वजह से आप अपनी उम्र दे कई साल छोटे दिखते हैं।  

एंटीऑक्सीडेंट्स शरीर में मौजूद फ्री रेडिकल्स को कम करते हैं जिनकी वजह से चेहरे तथा शरीर की त्वचा पर झुर्रियां नहीं पड़ती है।  इससे त्वचा बहुत नरम  और कोमल दिखती है।  यह शरीर में रोग प्रतिरोधक तंत्र को मजबूत करती हैं और अनेक प्रकार की बीमारियों से लड़ने में शरीर को सक्षम बनाती है। 

शरीर की कोशिकाओं को रिपेयर करता है

 दैनिक जीवन में हम वातावरण में मौजूद ऐसे तत्वों के संपर्क में आते हैं जिनकी वजह से शरीर को अनेक प्रकार की क्षति पहुंचती है।  क्योंकि कीवी फल  में प्रचुर मात्रा में विटामिन होता है, या शरीर की कोशिकाओं को रिपेयर करने में मदद करता है।  

अगर हम संतरे से इस फल की तुलना करें तो,  इसमें संतरे के मुकाबले 2 गुना ज्यादा  एंटी ऑक्सीडेंट पाया जाता है। कीवी के फल में आयरन तो  ज्यादा नहीं होता है लेकिन यह शरीर की आयरन को अवशोषित करने की क्षमता को कई गुना बढ़ा देता है।  

इस वजह से अगर आप कोई भी आहार ग्रहण करें जिसमें आयरन की मात्रा हो तो आप का शरीर  तुरंत ही उस आयरन की मात्रा को अवशोषित कर लेता है।  आईरन शरीर में खून के निर्माण में सहायक है।  यही वजह है कि कीवी का फल खाने से शरीर में खून का स्तर बहुत तेजी से बढ़ जाता है। 

डायबिटीज पर नियंत्रण

ग्लाइकेमिक इंडेक्स एक प्रकार का माप है जो यह बताता है कि किसी आहार को ग्रहण करने पर शरीर में ग्लूकोस की कितनी मात्रा बढ़ेगी।  इस माप के अनुसार यह पाया गया कि कीवी का फल खाने से रक्त में ग्लूकोज की मात्रा अनियमित रूप से नहीं पड़ती है।  

कीवी का फल शरीर में शुगर लेवल को बढ़ने नहीं देता है और इस तरह से डायबिटीज पर नियंत्रण पाता है। यह एक प्रकार से डायबिटीज के मरीजों के लिए खुशखबरी है।  

कीवी का फल ना केवल डायबिटीज पर नियंत्रण पाने में मदद करता है बल्कि यह फल दिल के अनेक प्रकार के रोगों से भी बचाता है और शरीर के वजन (वेट लॉस) को कम करता है। 

गर्भावस्था में कीवी खाने के फायदे

गर्भवती महिलाओं के लिए यह आवश्यक है कि वे हर दिन 400 से 600 माइक्रोग्राम फोलिक एसिड की मात्रा ग्रहण करें। कीवी का फल फोलिक एसिड का एक बहुत ही अच्छा स्रोत है।  फोलिक एसिड गर्भ में पल रहे शिशु के मस्तिष्क के विकास में बहुत फायदेमंद है। 

पाचन प्रक्रिया दुरुस्त रखता

 कीवी के फल में फाइबर भी प्रचुर मात्रा में होता है जो पाचन प्रक्रिया को दुरुस्त रखने में बहुत महत्वपूर्ण है। इस वजह से कीवी का फल कब्ज की समस्या में एक कारगर उपाय है। 

ओस्टियोपोरोसिस से राहत

ओस्टियोपोरोसिस से राहत 

कीवी के एक फल  में केले की बराबर पोटेशियम की मात्रा पाई जाती है।  पोटेशियम शरीर में हड्डियों को मजबूत बनाने में अहम भूमिका निभाता है।  निरंतर कीवी का फल खाने से शरीर की हड्डियां तथा मांसपेशियां मजबूत बनती है। 

अनेक पोषक तत्वों का भंडार

 कीवी के पल में 27 प्रकार के अलग-अलग पोषक तत्व पाए जाते हैं  जिस वजह से इसे पोषक तत्वों का पावर हाउस कहा जाता है। उदाहरण के लिए इसमें फाइबर, विटामिन सी और ई, कैर्टेनॉयड्स, एंटीऑक्सीडेंट्स के अलावा कई प्रकार के मिनरल्स भी पाए जाते हैं। 

डेंगू में राहत

 जिन मौसम में मच्छरों का प्रकोप सबसे ज्यादा बढ़ जाता है उन्हीं मौसम में डेंगू से पीड़ित मरीजों की संख्या में भी काफी इजाफा होता है।  डेंगू की बीमारी काफी खतरनाक होती है और अगर सावधानी नहीं बरती गई तो मरीजों की जांच आसानी से चली जाती है।  

इसीलिए यह जरूरी है कि डेंगू से पीड़ित मरीजों की देखभाल में किसी भी प्रकार की कतोहि न बाराती जाए।  जैसा कि लेख के शुरुआत में ही मैंने बताया, की  कीवी के फल में ऐसी अनेक प्रकार के पोषक तत्व पाए जाते हैं जो शरीर में रक्त की मात्रा को बढ़ाने में काफी कारगर है।  

कीवी का फल आपके शरीर को आयरन को अवशोषित करने में दक्ष बनाता है।  डेंगू की बीमारी में रक्त की मात्रा शरीर मैं बहुत तेजी से गिरती है इस वजह से मरीज में मृत्यु की संभावना काफी बढ़ जाती है।  कीवी का फल शरीर में खून की मात्रा को बढ़ाने में मदद करता है और इस तरह की डेंगू के मरीजों को राहत पहुंचाता है। 

आंखों की रोशनी को बढ़ाता है

कीवी के फल में ल्यूटिन तत्व  होता है जो  स्किन और टिशूज को स्वस्थ रखने में  सहायता करता है।  ल्यूटिन तत्व   की वजह से ही शरीर जमा दिखती है।  लेकिन इसका एक और भी फायदा है।  

आंखों की रोशनी को बढ़ाता है

जैसे-जैसे हम बुढ़ापे की तरफ कदम रखते हैं आंखों की कोशिकाओं में मौजूद  ल्यूटिन तत्व   में कमी होने लगता है जिसकी वजह से आंखों की  मांसपेशियां अपना लचीलापन खो देती है -  और देखने की क्षमता में कमी का एहसास होता है। 

कीवी के फल में ल्यूटिन तत्व   होने की वजह से जब आप  कीवी के फल को ग्रहण करती है तो शरीर में ल्यूटिन तत्व   की मात्रा बढ़ जाती है जिससे आंखों की रोशनी बेहतर होती है। 

दिल की बीमारियों से राहत

कीवी के फल में फाइबर प्रचुर मात्रा में होता है जो हृदय को तंदुरुस्त बनाए रखने में मदद करता है।इसके नियमित सेवन से  ब्लड क्लॉटिंग की समस्या से राहत मिलती है और  यह शरीर में मौजूद ट्राइग्लिस्राइड्स के लेवल को भी कम करता है।  

दिल की बीमारियों से राहत

कीवी फल के नियमित सेवन से लिवर, स्ट्रोक, कार्डियक अरेस्ट, हार्ट अटैक जैसे अनेक प्रकार की गंभीर और जानलेवा बीमारियों से सुरक्षा मिलती है। 

यह कैंसर की बीमारी से बचाता है

 कीवी के फल में एंटी ऑक्सीडेंट होता है जो शरीर में मौजूद फ्री रेडिकल को खत्म करता है। शरीर में कैंसर की बीमारी के शुरू होने की सबसे प्रमुख वजह होती है फ्री रेडिकल्स की मौजूदगी।  

कैंसर की बीमारी से बचाता है

शरीर में  जितना कम  फ्री रेडिकल्स होगा, आपका शरीर  कैंसर के  प्रति  उतना ज्यादा सुरक्षित रहेगा।  इस लिहाज से अगर हम देखें तो हम पाएंगे कीवी का फल कैंसर की बीमारी से बचाने में बहुत कारगर है। 

हर दिन  मात्र एक  कीवी का फल  खाने से  आपके दैनिक आवश्यकता का  77%  विटामिन सी  आपको मिल जाता है।   कीवी के फल से आपको संतरा और नींबू की तुलना में ज्यादा विटामिन सी की मात्रा मिलती है। 

बालों के लिए बेहद फायदेमंद

 हर स्त्री चाहती है कि उसके बाद सुंदर घने और खूबसूरत हो।  लेकिन वातावरण में इतना प्रदूषण होने की वजह यह सपना मात्र एक सपना ही रह जाता है।  

बालों के लिए बेहद फायदेमंद

अगर आप सुंदर घने और खूबसूरत बाल चाहती हैं तो एक उपाय है।  आपको अपने दैनिक आहार में कीवी के फल को सम्मिलित करना होगा।  किवी के फल में मौजूद पोषक  तत्वों से बालों को बहुत फायदा मिलेगा। 

बालों का झड़ना रोके 

कीवी के फल में भारी मात्रा विटामिन सी और ई मौजूद होता है।  यह दोनों पोषक तत्व बालों को मजबूती देने का काम करते हैं जिसकी वजह से  बालों के जड़ को मजबूती मिलती है और बाल उखड़ कर गिरते नहीं। 

बालों का झड़ना रोके

साथ ही बालों को भी मजबूती और  तंदुरुस्ती मिलती है जिस वजह से बालों का टूटना कम होता है। कीवी  के फल में मौजूद मैग्नीशियम, जस्ता और फास्फोरस जैसे खनिज रक्त परिसंचरण को उत्तेजित करते हैं  जो बालों के विकास में तेजी।  

इस वजह से कुछ दिनों तक कीवी फल का नियमित सेवन करने से बाल बहुत तेजी से बढ़ते हैं और घने होते हैं। इसके साथ ही साथ बालों के झड़ने की समस्या  से भी राहत मिलता है। 

Terms & Conditions: बच्चों के स्वस्थ, परवरिश और पढाई से सम्बंधित लेख लिखें| लेख न्यूनतम 1700 words की होनी चाहिए| विशेषज्ञों दुवारा चुने गए लेख को लेखक के नाम और फोटो के साथ प्रकाशित किया जायेगा| साथ ही हर चयनित लेखकों को KidHealthCenter.com की तरफ से सर्टिफिकेट दिया जायेगा| यह भारत की सबसे ज़्यादा पढ़ी जाने वाली ब्लॉग है - जिस पर हर महीने 7 लाख पाठक अपनी समस्याओं का समाधान पाते हैं| आप भी इसके लिए लिख सकती हैं और अपने अनुभव को पाठकों तक पहुंचा सकती हैं|

Send Your article at contest@kidhealthcenter.com



ध्यान रखने योग्य बाते
- आपका लेख पूर्ण रूप से नया एवं आपका होना चाहिए| यह लेख किसी दूसरे स्रोत से चुराया नही होना चाहिए|
- लेख में कम से कम वर्तनी (Spellings) एवं व्याकरण (Grammar) संबंधी त्रुटियाँ होनी चाहिए|
- संबंधित चित्र (Images) भेजने कि कोशिश करें
- मगर यह जरुरी नहीं है| |
- लेख में आवश्यक बदलाव करने के सभी अधिकार KidHealthCenter के पास सुरक्षित है.
- लेख के साथ अपना पूरा नाम, पता, वेबसाईट, ब्लॉग, सोशल मीडिया प्रोफाईल का पता भी अवश्य भेजे.
- लेख के प्रकाशन के एवज में KidHealthCenter लेखक के नाम और प्रोफाइल को लेख के अंत में प्रकाशित करेगा| किसी भी लेखक को किसी भी प्रकार का कोई भुगतान नही किया जाएगा|
- हम आपका लेख प्राप्त करने के बाद कम से कम एक सप्ताह मे भीतर उसे प्रकाशित करने की कोशिश करेंगे| एक बार प्रकाशित होने के बाद आप उस लेख को कहीं और प्रकाशित नही कर सकेंगे. और ना ही अप्रकाशित करवा सकेंगे| लेख पर संपूर्ण अधिकार KidHealthCenter का होगा|


Important Note: यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो kidhealthcenter.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है।

Most Read

Other Articles

Footer