Category: प्रेगनेंसी

गर्भावस्था में Vitamin E ना लेना खतरनाक हो सकता है

By: Editorial Team | 4 min read

Vitamin E शरीर में कोशिकाओं को सुरक्षित रखने का काम करता है यही वजह है कि अगर आप गर्भवती हैं तो आपको अपने भोजन में ऐसे आहार को सम्मिलित करने पड़ेंगे जिनमें प्रचुर मात्रा में विटामिन इ (Vitamin E ) होता है। इस तरह से आपको गर्भावस्था के दौरान अलग से विटामिन ई की कमी को पूरा करने के लिए सप्लीमेंट लेने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी।

गर्भावस्था में Vitamin E ना लेना खतरनाक हो सकता है

इस लेख में हम आपको बताएंगे कि आपको गर्भावस्था के दौरान कितना विटामिन ई लेने की आवश्यकता है तथा कौन कौन से भोजन है जिनके द्वारा आपके शरीर में विटामिन इ की कमी को पूरा किया जा सकता है। यह आहार आपके शरीर में दैनिक आवश्यकता के अनुसार विटामिन इ प्रदान करेंगे। 

इस लेख मे :

  1. विटामिन ई (Vitamin E ) क्या है?
  2. गर्भावस्था के दौरान विटामिन ई के फायदे
  3. गर्भावस्था के दौरान विटामिन इ (vitamin E) कितना सुरक्षित है
  4. किस आहार से कितना विटामिन मिलता है
  5. विटामिन इ (vitamin E) की अधिकता से बचाव

विटामिन ई (Vitamin E ) क्या है? What is Vitamin E?

विटामिन ई ऐसा पोषक तत्व है जो आसानी से वसा में घुल जाता है और यह कई प्रकार के आहार में पाया जाता है जैसे कि ऑलिव ऑयल यानी जैतून का तेल। यह और भी अन्य प्रकार के पेड़ पौधों से प्राप्त होने वाले तेल में भी पाया जाता है। 

विटामिन ई (Vitamin E ) क्या है

विटामिन ई एक प्रकार का एंटीऑक्सीडेंट है और इसी वजह से यह कोशिकाओं के cell membranes को नष्ट होने से बचाता है। अगर आपको अपने आहार से पर्याप्त मात्रा में विटामिन ई मिले तो आपकी त्वचा और आपकी आंखें दोनों ही स्वस्थ रहेंगी। साथ ही यह शरीर की रोग प्रतिरोधक तंत्र को भी मजबूत करता है जिस वजह से शरीर कई प्रकार के संक्रमण से बचा रहता है।

गर्भावस्था के दौरान विटामिन ई के फायदे

गर्भावस्था के दौरान विटामिन ई के फायदे - Benefits of Vitamin E during pregnancy

 जिन महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान पर्याप्त मात्रा में विटामिन ई मिलता है,  जन्म के बाद उनकी शिशु को  श्वासन संबंधी बीमारी जैसे कि अस्थमा की संभावना बहुत घट जाती है। 

गर्भावस्था के दौरान विटामिन इ (vitamin E) कितना सुरक्षित है

गर्भावस्था के दौरान विटामिन इ (vitamin E) कितना सुरक्षित है - How safe is Vitamin E during pregnancy?

हालांकि विटामिन ई गर्भवती महिला के स्वास्थ्य के लिए और गर्भ में पल रहे शिशु के अच्छी विकास के लिए बहुत आवश्यक है,  लेकिन फिर भी इसकी सही मात्रा ही लेनी चाहिए,  विशेषकर गर्भावस्था के दौरान।  

इसका मतलब ना तो  आप के शरीर को जरूरत से कम विटामिन इ मिले और ना ही यह जरूरत से ज्यादा मिले।  विटामिन ई की केवल उतनी मात्रा मिले जितने की आवश्यकता है। 

किस आहार से कितना विटामिन मिलता है

किस आहार से कितना विटामिन मिलता है - Vitamin E from food

गर्भवती महिला को प्रति 3mg per day vitamin E की आवश्यकता पड़ती है।  अगर आप हर दिन कई प्रकार के भोजन को अपने आहार में सम्मिलित करती हैं और संतुलित आहार (well-balanced diet) ग्रहण करती हैं तो आपको प्रतिदिन विटामिन ई की इतनी मात्रा आसानी से मिल जाएगी। High dose सप्लीमेंट की तुलना में आहार से विटामिन इ (vitamin E) की कमी को पूरा करना  स्वास्थ्य की दृष्टि से ज्यादा बेहतर है। 

विटामिन इ (vitamin E) की अधिकता से बचाव

विटामिन इ (vitamin E) की अधिकता से बचाव - Side effects of Vitamin E 

 विटामिन ई के ओवरडोज से बचने के लिए अगर आप सप्लीमेंट का सहारा ले रही हैं तो यह सुनिश्चित कर लें कि जो सप्लीमेंट आप ले रहे हैं वह गर्भवती महिला के लिए सुरक्षित (pregnancy-safe) है। 

अगर आप विटामिन ई के लिए पूर्ण रूप से आहार पर निर्भर हैं तो आपको विटामिन ई के ओवरडोज के बारे में चिंतित होने की आवश्यकता नहीं है। आप कितना भी आहार ग्रहण करें, यह संभव नहीं है कि  मात्र आहार ग्रहण करने से शरीर में विटामिन E की अधिकता हो जाए।

Terms & Conditions: बच्चों के स्वस्थ, परवरिश और पढाई से सम्बंधित लेख लिखें| लेख न्यूनतम 1700 words की होनी चाहिए| विशेषज्ञों दुवारा चुने गए लेख को लेखक के नाम और फोटो के साथ प्रकाशित किया जायेगा| साथ ही हर चयनित लेखकों को KidHealthCenter.com की तरफ से सर्टिफिकेट दिया जायेगा| यह भारत की सबसे ज़्यादा पढ़ी जाने वाली ब्लॉग है - जिस पर हर महीने 7 लाख पाठक अपनी समस्याओं का समाधान पाते हैं| आप भी इसके लिए लिख सकती हैं और अपने अनुभव को पाठकों तक पहुंचा सकती हैं|

Send Your article at contest@kidhealthcenter.com



ध्यान रखने योग्य बाते
- आपका लेख पूर्ण रूप से नया एवं आपका होना चाहिए| यह लेख किसी दूसरे स्रोत से चुराया नही होना चाहिए|
- लेख में कम से कम वर्तनी (Spellings) एवं व्याकरण (Grammar) संबंधी त्रुटियाँ होनी चाहिए|
- संबंधित चित्र (Images) भेजने कि कोशिश करें
- मगर यह जरुरी नहीं है| |
- लेख में आवश्यक बदलाव करने के सभी अधिकार KidHealthCenter के पास सुरक्षित है.
- लेख के साथ अपना पूरा नाम, पता, वेबसाईट, ब्लॉग, सोशल मीडिया प्रोफाईल का पता भी अवश्य भेजे.
- लेख के प्रकाशन के एवज में KidHealthCenter लेखक के नाम और प्रोफाइल को लेख के अंत में प्रकाशित करेगा| किसी भी लेखक को किसी भी प्रकार का कोई भुगतान नही किया जाएगा|
- हम आपका लेख प्राप्त करने के बाद कम से कम एक सप्ताह मे भीतर उसे प्रकाशित करने की कोशिश करेंगे| एक बार प्रकाशित होने के बाद आप उस लेख को कहीं और प्रकाशित नही कर सकेंगे. और ना ही अप्रकाशित करवा सकेंगे| लेख पर संपूर्ण अधिकार KidHealthCenter का होगा|


Important Note: यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो kidhealthcenter.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है।

Most Read

Other Articles

Footer