Category: टीकाकरण (vaccination)

टाइफाइड वैक्सीन - प्रयोग विधि एवं सावधानियां

By: Vandana Srivastava | 6 min read

टाइफाइड वैक्सीन का वैक्सीन आप के शिशु को टाइफाइड के बीमारी से बचता है। टाइफाइड का वैक्सीन मुख्यता दो तरह से उपलबध है। पहला है Ty21a - यह लाइव वैक्सीन जिसे मुख के रस्ते दिया जाता है। दूसरा है Vi capsular polysaccharide vaccine - इसे इंजेक्शन के द्वारा दिया जाता है। टाइफाइड वैक्सीन का वैक्सीन पहले दो सालों में 30 से 70 प्रतिशत तक कारगर है।

टाइफाइड वैक्सीन

टायफॉइड  की रोकथाम के लिए टीकाकरण बहुत ही आवश्यक है। रोग प्रतिरोधक दवाएं टाइफाइड को रोक नहीं सकती हैं, बस उपचार कर सकती हैं। 

आप अपने बच्चे को जन्म के बाद से ही सारी बिमारियों से बचाने के लिए उसके टीकाकरण को ले कर सावधान रहें क्योंकि इसी के माध्यम से आज के प्रदूषित वातावरण से आपका बच्चा स्वस्थ रहेगा। 

प्रत्येक बीमारी के लिए अलग वैक्सीन का प्रयोग किया जाता है। यहाँ हम टाइफाइड रोग से आपके बच्चे को बचाने के लिए कुछ ज़रूरी जानकारियां दे रहे हैं।

इस लेख में आप सीखेंगे - You will read in this article

  1. टाइफाइड वैक्सीन की प्रयोग विधि एवं सावधानियां
  2. टाइफाइड वैक्सीन के दुष्प्रभाव
  3. टाइफाइड वैक्सीन के प्रयोग, फायदे तथा उपयोग
  4. टाइफाइड वैक्सीन का निषेध
  5. टाइफाइड वैक्सीन से सम्बंधित जानकारियां
  6. खुराक छूटना
  7. टाइफाइड वैक्सीन की अधिक मात्रा
  8. टाइफाइड वैक्सीन का रख- रखाव
  9. खुराक की जानकारी
  10. Video: टायफॉईड के बुखार में क्या खाए और क्या नही

टाइफाइड वैक्सीन की प्रयोग विधि एवं सावधानियां - Method to use Typhoid Vaccine and precautions

टाइफाइड वैक्सीन का प्रयोग करने से पहले, डॉक्टर को अपने बच्चे की वर्तमान दवाओं, अनिर्देशित उत्पादों (जैसे: विटामिन, हर्बल सप्लीमेंट आदि), एलर्जी, पुरानी बीमारियों, के बारे में जानकारी प्रदान करें। कुछ स्वास्थ्य परिस्थितियां आपके बच्चे को दवा के दुष्प्रभावों के प्रति ज्यादा सेंसिटिव बना सकती हैं। अपने डॉक्टर के निर्देशों के अनुसार दवा का सेवन करवाएं या प्रोडक्ट पर प्रिंट किये गए निर्देशों का पालन करें। खुराक आपके बच्चे की स्थिति पर आधारित होती है। यदि आपके बच्चे की स्थिति में कोई सुधार नहीं होता है या यदि आपके बच्चे की हालत ज्यादा खराब हो जाती है तो अपने डॉक्टर को बताएं। 

  • एचआईवी संक्रमण
  • कमजोर प्रतिरोधक क्षमता 
  • कैंसर
  • कैंसर के उपचार

टाइफाइड वैक्सीन schedule

टाइफाइड वैक्सीन के दुष्प्रभाव - 

यह संभावित दुष्प्रभावों की सूची है जो उन दवाओं से हो सकते हैं जिनमें टाइफाइड वैक्सीन शामिल होता है। ये दुष्प्रभाव संभव हैं, परंतु ये हमेशा हों यह ज़रूरी नहीं है। कुछ दुष्प्रभाव दुर्लभ होते हुए भी गंभीर हो सकते हैं। यदि आपको निम्नलिखित में से किसी भी दुष्प्रभाव का पता चलता है, और यदि ये समाप्त नहीं होते हैं तो अपने डॉक्टर से परामर्श लें।

  • सरदर्द
  • मांसपेशियों में दर्द
  • जी मिचलाना
  • कोमलता
  • दर्द, लालिमा, सूजन और इंजेक्शन स्थल पर सख्त

टाइफाइड वैक्सीन के प्रयोग, फायदे तथा उपयोग

टाइफाइड वैक्सीन का प्रयोग छोटे बच्चे से लेकर उसके बड़े होने तक किया जाता है। यह बच्चे के अंदर रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा कर उसके स्वस्थ्य में इज़ाफ़ा करता है। विभिन्न प्रकार के रोगों से लड़ने की क्षमता प्रदान करता है और बच्चे को स्वस्थ करता है।

टाइफाइड वैक्सीन का निषेध

टाइफाइड वैक्सीन बच्चे के लिए अत्यधिक सेंसिटिव है। इसके अतिरिक्त, यदि आपके बच्चे को निम्नलिखित समस्याएं हैं तो टाइफाइड वैक्सीन नहीं दिया जाना चाहिए:

  • एलर्जी
  • पहले से ही संक्रमित या टाइफाइड के वाहक
  • संक्रमण या बुखार के साथ एक बीमारी

टाइफाइड वैक्सीन से सम्बंधित जानकारियां

खुराक छूटना

यदि आपके बच्चे की कोई खुराक छूट जाती है तो याद आने पर जल्दी से जल्दी खुराक का सेवन करवाएं। यदि आपके बच्चे की अगली खुराक का समय निकट है तो छूटी हुई खुराक छोड़ दें और अपने बच्चे के खुराक का शिड्यूल दोबारा शुरू करें। छूटी हुई खुराक की पूर्ति करने के लिए अतिरिक्त दवा का सेवन ना कराएं। यदि आप नियमित रूप से बच्चे को खुराक देना भूल जा रहीं हैं तो अलार्म लगाएं या अपने परिवार के किसी सदस्य को याद दिलाने के लिए कहें। यदि हाल में आपने कई खुराकें छोड़ दी हैं तो छूटी हुई दवाओं की पूर्ति करने के लिए समय में परिवर्तन और नए समय के बारे में चर्चा करने के लिए कृपया अपने डॉक्टर से परामर्श लें।

टाइफाइड वैक्सीन से सम्बंधित जानकारियां

टाइफाइड वैक्सीन की अधिक मात्रा

अपने बच्चे को खुराक से ज्यादा का सेवन ना करवाएं। ज्यादा दवा के उपयोग से आपके बच्चे के लक्षणों में सुधार नहीं होगा, बल्कि इससे विषाक्तता या गंभीर दुष्प्रभाव हो सकते हैं। यदि आपको लगता है कि आपके बच्चे ने टाइफाइड वैक्सीन की ज्यादा खुराक ले ली है तो कृपया अपने नजदीकी अस्पताल या नर्सिंग होम के आपातकालीन विभाग में जाएँ। अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या दवा विक्रेता से परामर्श लें।

टाइफाइड वैक्सीन का रख- रखाव

  • दवाओं को गर्मी और सीधी रोशनी से दूर, कमरे के तापमान पर रखें। दवाओं को फ्रीज़ में ना रखें जब तक कि अंदर दिए गए पैकेज के अनुसार ऐसा करने का निर्देश ना दिया गया हो। दवाओं को छोटे बच्चों से दूर रखें।
  • दवाओं को शौचालय या नाली में ना बहाएं जब तक कि ऐसा करने के लिए निर्देशित नहीं किया है। इस प्रकार से फेंकी गयी दवाएं पर्यावरण को नुकसान पहुंचा सकती हैं। टाइफाइड वैक्सीन को सुरक्षित रूप से समाप्त करने के बारे में और अधिक जानकारी पाने के लिए अपने दवा विक्रेता या डॉक्टर से परामर्श लें।

खुराक की जानकारी

अपने डॉक्टर से सलाह लेकर बच्चे को वैक्सीन की सही खुराक दिलवाएं जिससे उसका भविष्य सुरक्षित हो जाये।

Video: टायफॉईड के बुखार में क्या खाए और क्या नही - Foods you should eat or avoid during typhoid

Terms & Conditions: बच्चों के स्वस्थ, परवरिश और पढाई से सम्बंधित लेख लिखें| लेख न्यूनतम 1700 words की होनी चाहिए| विशेषज्ञों दुवारा चुने गए लेख को लेखक के नाम और फोटो के साथ प्रकाशित किया जायेगा| साथ ही हर चयनित लेखकों को KidHealthCenter.com की तरफ से सर्टिफिकेट दिया जायेगा| यह भारत की सबसे ज़्यादा पढ़ी जाने वाली ब्लॉग है - जिस पर हर महीने 7 लाख पाठक अपनी समस्याओं का समाधान पाते हैं| आप भी इसके लिए लिख सकती हैं और अपने अनुभव को पाठकों तक पहुंचा सकती हैं|

Send Your article at contest@kidhealthcenter.com



ध्यान रखने योग्य बाते
- आपका लेख पूर्ण रूप से नया एवं आपका होना चाहिए| यह लेख किसी दूसरे स्रोत से चुराया नही होना चाहिए|
- लेख में कम से कम वर्तनी (Spellings) एवं व्याकरण (Grammar) संबंधी त्रुटियाँ होनी चाहिए|
- संबंधित चित्र (Images) भेजने कि कोशिश करें
- मगर यह जरुरी नहीं है| |
- लेख में आवश्यक बदलाव करने के सभी अधिकार KidHealthCenter के पास सुरक्षित है.
- लेख के साथ अपना पूरा नाम, पता, वेबसाईट, ब्लॉग, सोशल मीडिया प्रोफाईल का पता भी अवश्य भेजे.
- लेख के प्रकाशन के एवज में KidHealthCenter लेखक के नाम और प्रोफाइल को लेख के अंत में प्रकाशित करेगा| किसी भी लेखक को किसी भी प्रकार का कोई भुगतान नही किया जाएगा|
- हम आपका लेख प्राप्त करने के बाद कम से कम एक सप्ताह मे भीतर उसे प्रकाशित करने की कोशिश करेंगे| एक बार प्रकाशित होने के बाद आप उस लेख को कहीं और प्रकाशित नही कर सकेंगे. और ना ही अप्रकाशित करवा सकेंगे| लेख पर संपूर्ण अधिकार KidHealthCenter का होगा|


Important Note: यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो kidhealthcenter.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है।

Most Read

Other Articles

indexed_40.txt
Footer