Category: बच्चों की परवरिश

गर्भावस्था के बाद ऐसे रहें फिट और तंदुरुस्त

By: Salan Khalkho | 1 min read

गर्भावस्था के बाद तंदरुस्ती बनाये रखना बहुत ही चुनौती पूर्ण होता है। लेकिन कुछ छोटी-मोती बातों का अगर ख्याल रखा जाये तो आप अपनी पहली जैसी शारीरिक रौनक बार्कर रख पाएंगी। उदहारण के तौर पे हर-बार स्तनपान कराने से करीब 500 600 कैलोरी का क्षय होता है। इतनी कैलोरी का क्षय करने के लिए आपको GYM मैं बहुत मेहनत करनी पड़ेगी।

गर्भावस्था के बाद ऐसे रहें फिट और तंदुरुस्त how mother keep fit after pregnancy

गर्भावस्था के बाद महिलाओं का दुबारा shape में आना बेहद चुनती पूर्ण होता है।

अगर आप भी माँ बन्ने के बाद - फिर से पहली जैसे look चाहती है तो खास आप के लिए मै कुछ आसन tips बताने जा रहा हूँ।

  1. आप को सबसे पहले अपने आहार से सुगर और फैट ख़त्म करना होगा। अपने आहार को इस तरह से प्लान करना पड़ेगा की आप को खाने में वो खाद्य सामग्री ज्यादा हों जिनसे आप को भरपूर पोषक तत्त्व मिल सके।  उदहारण के तौर आप को अपने आहार में फल और सब्जियों का सेवन बढ़ा देना चाहिए। इसके साथ आप को अंडे, ड्राई फ्रूट्स और पस्तास भी खाना फायदेमंद रहता है। 
  2. अधिकांश महिलाएं यह सोचती हैं की अगर वे अपने आहार को आधा कर दें तो उनका वजन कम हो जायेगा। लेकिन इसका उन पे उल्टा असर पड़ता है। ऐसा करने पे उन्हें दिन में भूख बहुत ज्यादा लगती है और इधर-उधर कुछ-खुश खा कर वे दिन भर में ज्यादा ही आहार ग्रहण कर लेती हैं - और उन्हें इस बात का पता ही नहीं चलता है। 
  3. अगर आप यह सोचती हैं की सुबह का नाश्ता छोड़ देने से आप को वजन काम करने में सहायता मिलेगी तो यह सिर्फ आप का भ्रम है। हकीकत तो यह है की जब आप सुबह का नाश्ता नहीं करती हैं तो आप का metabolism यह समझने लगता है की आप आज व्रत (starvation period) में हैं और इसीलिए दोपहर बाद जब आप खाना खाते हैं तो वो उस आहार को फैट के रूप में इकठा करने लगता है। सुबह का नाश्ता कभी भी नहीं छोड़ें। सुबह का नाश्ता करने से आप का शरीर आहार को इकठा नहीं करेगा और आप को दिन भर ज्यादा फुर्ती और तंदरुस्ती भी महसूस होगी। 
  4. शिशु के जन्म के बाद आप दिन में तीन बड़े आहार के बदले कई बार छोटे-छोटे आहार ग्रहण करें। इससे आप के शरीरी को दिन भर के लिए पर्याप्त ऊर्जा और पोषक तत्त्व भी मिल जायेंगे और दिन-भर का मिला के आप देखें तो आहार भी कम ग्रहण की होंगी। 
  5. संतुलित आहार (balanced diet) के साथ-साथ आप को हर दिन नियमित रूप से व्यायाम भी करने की भी आवश्यकता है। इससे आप का शरीर shape में भी रहेगा और आप को तनाव भी कम रहेगा। व्यायाम करने से आप को नींद भी बहुत अच्छी और गहरी आएगी। 
  6. दिन भर में आप को कम से कम तीन लीटर पानी पीने की भी आवश्यकता है।  कम से कम तीन लीटर पानी पीने से आप का पाचन तंत्र उस पानी को प्रक्रिया (process) करने में ऊर्जा खर्च करेगा। यह ऊर्जा शरीर को शरीर में इकठा फैट से प्राप्त होगा। दूसरी बात यह है की जरुरत के अनुसार (यानि कम से कम तीन लीटर पानी) पिने से आप के शरीर में नमी का स्तर बना रहेगा और आप तारो-ताज़ा महसूस करेंगी। 
  7. बहुत सी महिलाएं अपने shape को बरकरा रखें के लिए अपने बच्चे को दूध पिलाने से बचती हैं। मगर सच बात तो यह है की गर्भावस्था में स्तनपान करना स्वस्थ के लिए बेहद अच्छा होता है। स्तनपान करने से बढ़ा  हुआ वजन कम होता है। साथ ही हर-बार स्तनपान कराने से करीब 500 600 कैलोरी का क्षय होता है। इतनी कैलोरी का क्षय करने के लिए आपको GYM मैं बहुत मेहनत करनी पड़ेगी। 
  8. गर्भावस्था के बाद दुबारा shape में आने के लिए पर्याप्त नींद भी बहुत जरुरी है। अकसर यह देखा गया है की शिशु के जन्म के बाद महिलाए पर्याप्त नींद नहीं ले पाती हैं। जब पर्याप्त नीद पूरी नहीं होती है तब भूक नियंत्रण करने वाले हॉर्मोन्स पर असर पड़ता है - और महिलाओं को जरुरत से ज्यादा भूख लगती है। यही कारण है की बहुत से महिलाएं गर्भावस्था के ज्यादा बुख महसूस करती हैं। इसका नतीजा यह होता है की उनका वजन बहुत तेज़ी से बढ़ता है। 

Terms & Conditions: बच्चों के स्वस्थ, परवरिश और पढाई से सम्बंधित लेख लिखें| लेख न्यूनतम 1700 words की होनी चाहिए| विशेषज्ञों दुवारा चुने गए लेख को लेखक के नाम और फोटो के साथ प्रकाशित किया जायेगा| साथ ही हर चयनित लेखकों को KidHealthCenter.com की तरफ से सर्टिफिकेट दिया जायेगा| यह भारत की सबसे ज़्यादा पढ़ी जाने वाली ब्लॉग है - जिस पर हर महीने 7 लाख पाठक अपनी समस्याओं का समाधान पाते हैं| आप भी इसके लिए लिख सकती हैं और अपने अनुभव को पाठकों तक पहुंचा सकती हैं|

Send Your article at contest@kidhealthcenter.com



ध्यान रखने योग्य बाते
- आपका लेख पूर्ण रूप से नया एवं आपका होना चाहिए| यह लेख किसी दूसरे स्रोत से चुराया नही होना चाहिए|
- लेख में कम से कम वर्तनी (Spellings) एवं व्याकरण (Grammar) संबंधी त्रुटियाँ होनी चाहिए|
- संबंधित चित्र (Images) भेजने कि कोशिश करें
- मगर यह जरुरी नहीं है| |
- लेख में आवश्यक बदलाव करने के सभी अधिकार KidHealthCenter के पास सुरक्षित है.
- लेख के साथ अपना पूरा नाम, पता, वेबसाईट, ब्लॉग, सोशल मीडिया प्रोफाईल का पता भी अवश्य भेजे.
- लेख के प्रकाशन के एवज में KidHealthCenter लेखक के नाम और प्रोफाइल को लेख के अंत में प्रकाशित करेगा| किसी भी लेखक को किसी भी प्रकार का कोई भुगतान नही किया जाएगा|
- हम आपका लेख प्राप्त करने के बाद कम से कम एक सप्ताह मे भीतर उसे प्रकाशित करने की कोशिश करेंगे| एक बार प्रकाशित होने के बाद आप उस लेख को कहीं और प्रकाशित नही कर सकेंगे. और ना ही अप्रकाशित करवा सकेंगे| लेख पर संपूर्ण अधिकार KidHealthCenter का होगा|


Important Note: यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो kidhealthcenter.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है।

Most Read

Other Articles

indexed_240.txt
Footer